Thursday , February 27 2020
Breaking News
Home / चातुर्मास / गच्छाधिपति का कुशलगढ़ में हुआ भव्य मंगल प्रवेश

गच्छाधिपति का कुशलगढ़ में हुआ भव्य मंगल प्रवेश

 

इंसान जीव मात्र के कल्याण की भावना से करें कार्य – गच्छाधिपति श्री

कुशलगढ़ / (स्वास्तिक जैन) – जब तक देव गुरू और धर्म के प्रति मन में शुभ भाव प्रकट नही होगे तब तक आत्मा का उत्थान नही होगा। मन में शुभ भावो की वृद्वि के लिएं मैत्री भाव आना आवश्यक है उक्त बात राष्ट्रसंत पूण्य सम्राट जंयतसेन सूरिश्वर महाराज के पट्टधर गच्छाधिपति युगनायक नित्यसेन सूरिश्वर महाराज ने रविवार को नगर में मंगल प्रवेश के बाद राज राजेन्द्र जंयत आराधना भवन में आयोजित धर्मसभा में उपस्थित जनसमुदाय से कही गच्छाधिपति श्री ने कहा कि मनुष्य को प्रत्येक जीव के प्रति मैत्री भाव रखते हुएं जीव मात्र की कल्याण की भावना से कार्य करना चाहिए। धर्मसभा से पूर्व मंगलाचरण व गुरूवंदन हुआ। इसके बाद बालिका एवं महिला परिषद के सदस्यो ने स्वागत गीत प्रस्तुत किया। इस दौरान नन्हें बालक विहान बंम व सुनीता चौपडा ने अपने भाव प्रकट किएं व आगामी चातुर्मास कुशलगढ़ में करने हेतु विनती की।धर्मसभा में मुनिराज सिद्वरत्नविजयजी व मुनिराज विद्वदरत्नविजयजी ने भी प्रवचन दिएं। धर्मसभा के बाद श्रीसंघ की ओर से गच्छाधिपति श्री को काम्बली ओढाई गई। धर्मसभा में संघ महामंत्री चन्द्रकांत मेहता ने गुरूदेव के समक्ष संघ द्वारा संचालित गतिविधियों के बारे में विस्तृत जानकारी दी। इस अवसर पर मुकेश लुणावत,जंयतिलाल चण्डालीया,राजेन्द्र मेहता,प्रकाश चण्डालीया,पारस सेठिया, निलेश चण्डालीया,सुनिल कटारीया, मनोज नाहटा,जिनेन्द्र सेठिया, अनिल धारीवाल,हितेश चण्डालीया, सहित गुजरात,मप्र आदि स्थानों से श्रद्वालु मोजुद थे।

गच्छाधिपति श्री का हुआ भव्य मंगल प्रवेश- नगर के रतलाम रोड स्थित गादिया फार्म हाउस से गच्छाधिपतिश्री व मुनिराज सिद्धरत्न विजय जी म.सा.,मुनिराज विद्वदरत्न विजयजी म.सा.,मुनिराज प्रशमशेन विजय जी म.सा.मुनिराज तारकरत्न विजय जी म.सा.मुनिराज निर्भयरत्न विजय जी म.सा.का नगर में भव्य मंगल प्रवेश हुआ। इस दौरान मूर्ति पूजक संघ द्वारा भव्य शोभायात्रा निकाली जिसमे महिला परिषद की महिलाए जैसे परिधान में सिर पर कलश धारण कर चल रही थी। समाजजनो ने जगह-जगह गहुली बनाकर दर्शन लाभ लिए। शोभायात्रा रतलाम रोड से प्रारम्भ होकर पेलेस रोड,गांधी चौक,राजेन्द्र बाबु मार्ग,रोडवेज बस स्टेण्ड,सरदार पटेल मार्ग ,नेहरू मार्ग से होती हुई गांधी मार्ग स्थित केशरियानाथ जैन मंदिर पहुॅचकर धर्मसभा में तब्दील हुई। वर्धमान स्थानकवासी श्रावक संघ अध्यक्ष राजेन्द्र गादिया,नेता प्रतिपक्ष रजनीकांत खाब्या, मूर्तिपूजक संघ उपाध्यक्ष रमेशचन्द्र गादिया,अशोक श्रीमाल,पवन गादिया,श्रवण गादिया, नवयुवक,महिला,बालिका व तरूण परिषद के सदस्यो व समाजजनो ने साधु भगवंतों की अगवानी की।

उक्त जानकारी प्रफुल जैन द्वारा दी गई।

About Swastik Jain

Check Also

अज्ञान से ज्ञान की ओर ले जाने वाला दिवस है ज्ञान पंचमी – मुनिराज डॉ सिद्धरत्नविजय

स्वयं के अर्जित ज्ञान में ना तो हिस्सेदारी होती है नाहीं बटवारा – मुनिराज ज्ञान …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *