Sunday , August 25 2019
Breaking News

जीवन मे संपदा व जीवन का बल है मौन – गच्छाधिपति श्री

पिपलौदा / (प्रफुल जैन) – पावनिय चातुर्मास महोत्सव के दौरान श्री शंखेश्वर पार्श्वनाथ धाम पर गच्छाधिपति नित्यसेन सूरीश्वर जी म.सा.ने कहा कि मौन में अलौकिक शक्ति होती हैं मौन में व्यक्ति बाह्य परिभावो से विरक्त होकर स्वभाव के अथाह सागर में डुबकी लगाता है जिससे आत्मशुद्धि के साथ ही शुभ भावनाओ रूप रत्नों की प्राप्ति सुलभ होती है मोन जीवन की संपदा व जीवन का बल है मौन को उल्टा करने से यही मौन नमो बन जाता है।
मुनिराज श्री सिद्धरत्न विजय जी म.सा.,मुनिराज श्री विद्वदरत्न विजय जी म.सा.,मुनिराज प्रशमसेन विजय जी म.सा., मुनिराज श्री तारकरत्न विजय जी म.सा.,व मिनिराज श्री निर्भयरत्न विजय जी म.सा. व साध्वी श्री भाग्यकला श्री जी म.सा.आदि ठाणा उपस्थित थे।

ये रहे लाभार्थी- श्री शंखेश्वर पार्श्वनाथ धाम प्रचार सचिव प्रफुल जैन ने बताया कि दादा गुरुदेव व पूण्य सम्राट की आरती का लाभ पारा श्री संघ अध्यक्ष प्रकाश तलेसरा परिवार, प्रभावना का लाभ प्रकाशचंद्र चेतन,विवेक कुमार जैन साँवेर, प्रकाश केशरीमल छाजेड़ पारा, जिनेन्द्र कुमार बापुलाल सिसोदिया मारू मन्दसौर, मथुरालाल अमृतलाल मोदी राजगढ़,अम्बिका इंडस्ट्री कोलार (कर्नाटक) गवली का लाभ सुनील कुमार नांदेचा परिवार द्वारा लिया गया सभी लाभार्थियों का श्री संघ अध्यक्ष बाबुलाल धींग द्वारा बहुमान किया गया संचालन चातुर्मास प्रभारी राकेश जैन ने व तरुण परिषद अध्यक्ष हर्ष कटारिया ने किया ।

नवकार ध्यान साधना संपन्न – गच्छाधिपति श्री व साधु साध्वी भगवंत की निश्रा में श्रीमती वंदना राकेश आंचलिया नीमच द्वारा नवकार ध्यान साधना का विशेष आयोजन किया गया जिसमें जन मानस को ध्यान के बारे में बताया कि ध्यान में मोन शांत वातावरण एवं स्थिर रहना आवश्यक है इसके साथ नवकार मन्त्र के पदों पर जनमानस का ध्यान केंद्रित कर पूण्य सम्राट की छवि का अहसास शब्दो के माध्यम से करवाया साथ ही पिपलोदा श्री संघ द्वारा श्रीमती वंदना आंचलिया को विशाल जनसमुदाय की उपस्थिति में “ध्यान उपासिका” की उपाधि से नवाजा गया ।

चल रही तप आराधना – चातुर्मास महोत्सव के दौरान सांखली तेला व सांखली आयम्बिल के साथ ही तप आराधना चल रही है इसी क्रम में राखी भंडारी के 26, हंसा बाबेल के 23, अवस्थी जैन के 5 उपवास की तपस्या चल रही है

पैदल संघ का दिया मुहर्त – संघपति श्री प्रकाश केशरीमल छाजेड़ परिवार पारा द्वारा पालीताणा के लिए पैदल संघ हेतु पारा से आये 108 गुरु भक्तो ने गच्छाधिपति श्री से छरी पालित संघ की विनती की जिस पर गच्छाधिपति श्री ने समय कम होने से वलभीपुर से पालीताणा का संघ प्रयाण का महा सुदी पंचमी दिनांक 15 जनवरी 2020 का शुभ मुहर्त प्रदान किया जिसे प्राप्त कर जनमानस के चेहरे खिल उठे ।

पत्रिका का किया विमोचन – दिनांक 24 अगस्त को भगवान श्री कृष्ण जन्माष्टमी के शुभ अवसर पर गच्छाधिपति श्री की निश्रा में आयोजित “मातृ पितृ वंदना” पत्रिका का विमोचन किया गया जिसका लाभ शिवपुरी गोश्वामी परिवार पिपलोदा द्वारा लिया गया ।

नमो उवज्झायांण पद की भाव यात्रा कल – दिनांक 10 अगस्त शनिवार को गच्छाधिपति श्री की निश्रा में लाभार्थी श्री सुमीत कुमार इंदरमल दसेड़ा परिवार जावरा द्वारा कुमार पाल महाराजा बनकर उनके द्वारा 7 तीर्थ श्री नलिया तीर्थ, श्री मोढेरा तीर्थ, श्री उज्जित गिरी तीर्थ, श्री वरमाण तीर्थ,श्री झाबुआ तीर्थ, श्री यादगिरी तीर्थ, श्री नंदनवन तीर्थ की भाव यात्रा सम्पन्न होगी ।

About Swastik Jain

Check Also

सम्पूर्ण विश्व मे प्रभावशाली है भावना – गच्छाधिपति श्री

पिपलौदा / (प्रफुल जैन) – पावनिय चातुर्मास महोत्सव के दौरान श्री शंखेश्वर पार्श्वनाथ धाम पर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *